On road safety in hindi

On road safety | On road safety in hindi

Introduction-On road safety

सड़क पर चलो तो सुरक्षा की जानकारी होना भी जरूरी हैं।

दुनिया के सभी लोग एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए सड़क का उपयोग करते है। परंतु इन सड़कों का उपयोग करने के लिए हमें कुछ नियमो का पालन करना होता है। उसे ही सरल भाषा में सड़क सुरक्षा कहते है। सबसे ज्यादा सड़को वाले देशों में भारत विश्व में 2 क्रम पर है। हर वर्ष लाखो-करोड़ो रुपये केवल सड़क बनाने के लिए खर्चे जाते है। सड़क सुरक्षा के लिए हर देश की सरकार साइन बोर्ड, ट्रैफिक सिग्नल, सीसीटीवी कैमरा और डिवाइडर जैसे कई नियम बनाती है।

सड़क सुरक्षा (Road Safety)

 दुनिया का हर व्यक्ति अपने जीवन में आने और जाने के लिए सड़क का उपयोग करता है। सड़क दुर्घटनाएं न सिर्फ वाहन चलाते हैं, बल्कि कभी-कभी सड़क पर चलने वाले लोग सड़क दुर्घटनाओं का शिकार हो जाते हैं। सड़क पर दुर्घटना एक प्रकार की लापरवाही से भी हो सकती  आज लोग सड़क दुर्घटना को एक सामान दुर्घटना लेते हैं परंतु यह नहीं पता होता है इस दुर्घटना में किसी की जान भी जा सकती है ।

सड़क दुघर्टना के कारण

यातायात के नियमों का पालन न करना, तेज गति से वाहन चलाना, अधिक नशा करके वाहन चलाना

अत्याधिक दुर्घटना इन्हीं कारणों से होता है I सड़क दुर्घटनाओं का मुख्य कारण है, सुरक्षा उपायों का उपयोग ना करना। जैसे की कई लोग गाड़ी चलाते समय सिटबेल्ट लगाना जरूरी नहीं समझते है। जिससे यह लोग सड़क सुरक्षा उपायों की अनदेखी करते है। लेकिन इस लापरवाही की वजह से कई लोग मौत के मुह में चले जाते है।  आज के युग में, सड़क दुर्घटनाएँ बहुत बड़ी हैं।  हालांकि, ऑटोमोबाइल प्रौद्योगिकी में सुधार के कारण मृत्यु दर में काफी कमी आई है।  फिर भी, सड़क पर कई संभावित खतरे हैं जो चोटों या यहां तक ​​कि मौत का कारण बन सकते हैं।

बच्चों के लिए रोड़ पर चलने के नियम

  • 1) माता-पिता को अपने बच्चों को अतिरिक्त सावधानी बरतनी चाहिए और उन्हें सड़क पार करने से पहले प्रत्येक साइड (बाएं और दाएं) को देखना सिखाना चाहिए।
  • 2) बच्चों को हमेशा सड़क पार करते समय अपने बड़ों या दोस्तों का हाथ पकड़ना चाहिए। उन्हें इधर उधर जाने से बचाना चाहिए।
  • 3) उन्हें सड़क पर कभी नहीं चलना चाहिए, माता-पिता को हाथ नहीं छोड़ना चाहिए या जल्दी में नहीं होना चाहिए और धैर्य रखना चाहिए।
  • और उन्हें सड़क पर अधिक सतर्क रहने की आवश्यकता है।
  • 4) उन्हें सड़क पर चलते हुए अपना ध्यान नहीं भटका ना चाहिए।
  • 5) उन्हें अपने माता-पिता द्वारा केवल फुटपाथ का पालन करने के लिए उपयोग किया जाना चाहिए या हमेशा सड़क के बाईं ओर का उपयोग करें जहां फुटपाथ अनुपलब्ध है।
  • 6) उन्हें हमेशा सही रास्ते पर चलने के लिए सिखाना चाहिए

सड़क सुरक्षा के नियम

  • 1) माता-पिता अपने 18 साल से कम उम्र वाले बच्चो को वाहन चलाने ना दे।
  • 2) इसके अलावा कभी शराब पीकर गाड़ी नहीं चलानी चाहिए।
  • 3) वाहन चलाते समय अपने और वाहन के जरूरी डॉकयुमेंट अपने पास रखे।
  • 4) वाहन चलाते समय कभी अपने मोबाइल फोन का उपयोग ना करे।
  • 5) जरूरत ना हो तो म्यूजिक भी न सुने, क्योकि इससे आपका दिमाग व्याकुल हो जाता है।
  • 6) सड़क पर तेज गति से वाहन ना चलाए। खास कर हॉस्पिटल, स्कूल और कॉलोनी जैसे सार्वजनिक क्षेत्रो में गाड़ी की गति धीमी रखे।
  • 7) हमेशा सड़क की बाईं तरफ चले और दौड़ते-दौड़ते सड़क को पार करने की कोशिश ना करे।
  • 8) सड़क पर गाड़ी को घुमाते समय या कही मुड़ते वक्त इंडिकेटर (सूचक) का इस्तेमाल जरूर करे
  • 9) इसके अलावा गाड़ी को घुमाते या मुड़ते समय गति धीमी रखे।
  • 10) जो सड़के या रोड जंक्शन बहुत ज्यादा व्यस्त है, वहा पर सावधानी ज्यादा रखे।
  • 11) किसी वाहन से आगे निकलने के लिए हमेशा हॉर्न का उपयोग करे।
  • 12) गाड़ी के पीछे से आने वाले वाहनों को देखने और सचेत रहने के लिए आइने का इस्तेमाल हमेशा करे।
  • 13) ट्रैफिक सिंगल्स और स्ट्रीट लाइट्स का सख्ती से पालन करें।
  • 14) सभी वाहन चालको को सड़क पर बने निशान और नियमो की जानकारी होनी चाहिए, क्योकि तभी लोग इन नियमो का अच्छे से पालन करेंगे।

और अंत में…

आज सड़को पर बहुत तेजी से हादसे और दुर्घटनाए बढ़ रही है। अगर हमने जल्द ही इसके बारे में कुछ नहीं किया तो शायद आने वाले समय में हमें खतरनाक परिणाम देखने मिलेंगे। और इतना सब कुछ जानने के बाद शायद अब आप लोगो को पता चल गया होगा कि आखिर क्यो वर्तमान में सड़क सुरक्षा हम सबके लिए जरूरी है। अगर हम सभी इन उपायो को जीवन में अपनाएँगे, तो शायद सड़क सुरक्षा के इन खतरनाक हादसो से बच सकते है।

Leave a Comment