यह कहानी आपको सफल और बुद्धिमान बनाएगी This story will make you successful and wise-hindi stories

hindi stories

Introduction-hindi stories

बहुत समय पहले की बात है एक राज्य में राजा अशोक राज्य करते थे और उसी नगर में एक किसान भी रहता था I किसान का नाम रामू था और रामू के 4 बच्चे भी थे I और घर का सारा काम उसकी पत्नी निशा बहुत अच्छे से संभालती थी I रामू गरीब जरूर था लेकिन ताकत और बुद्धि में वह बहुत आगे था I

राजा अशोक जब भी राज्य में दान देते तब तब बहुत डिंग मारते हैं और अपनी वाहवाही कराते यह बात प्रजा को अच्छी नहीं लगती I लेकिन प्रजा में से किसी की हिम्मत नहीं थी I कि वह राजा अशोक को कुछ कह सके उन्हें डर था कि राजा उन्हें दंड दे सकते हैं I राजा अशोक को शिकार का काफी शौक था इसीलिए राजा शाम होने से पहले शिकार में चल जाते हैं I

एक दिन की बात है राजा अशोक शिकार के लिए जंगल निकले I शिकार की खोज करते करते राजा जंगल के बहुत अंदर चले गए तभी अचानक सामने एक शेर ने राजा अशोक पर झपट्टा मारा I शेर को बिल्कुल सामने देखकर राजा के होश उड़ गए और डर के मारे राजा के हाथों से हथियार नीचे गिर गए I राजा के पास केवल 4 सैनिक थे एक सैनिक तो डर कर बेहोश हो गया I बाकी के तीन वहां से दौड़ भागे और प्रजा में यह भ्रम फैला दिया कि राजा को शेर खा गया है I सारी प्रजा उदासी में डूब गई लेकिन उधर राजा शेर से बचते हुए भाग रहे थे I

सहयोग से उसी दिन रामू भी लकड़ी काटने जंगल गया हुआ था लकड़ी काटते समय I जब उसने राजा की चीख सुनी और राजा को भागते हुए देखा तो I राम भी अपनी जान की परवाह ना करते हुए राजा की ओर भागा और उसने राजा की जान बचाई I

राजा उसकी बहादुरी और साहस से बहुत प्रसन्न हुए राजा किसान को अपने महल में ले गए I जब पूरे प्रजा ने राजा को फिर जीवित देखा तब पूरी प्रजा खुशी से झूम उठी I राजा ने सारा किस्सा प्रजा को बताया कि किस प्रकार डर करके सभी सैनिक भाग गए I और एक सैनिक जो बेहोश हो गया था और किस प्रकार बहादुरी से किसान ने राजा को बचाया I यह सब कुछ बताने के बाद राजा अशोक ने रामू के बहादुरी से खुश होकर उसे मनचाहा इनाम मांगने को कहा I

किसान की बुद्धिमानी वाली मांग

रामू ने राजा से कहा महाराज अगर आप मुझे कुछ देना ही चाहते हैं तो जो मैं मांगु क्या आप वह दीजिएगा?

राजा ने कहा क्या चाहिए ?

रामू ने राजा से कहा महाराज मुझे आपका नौकर बनकर आपके साथ 1 साल रहना है I लेकिन मेरी इच्छा यह है कि जहां भी आप जाओगे जहां भी आप रहोगे जो कुछ भी आप करोगे I उन सब कामों में मैं आपके साथ साथ रहूंगा

राजा अशोक को बड़ा आश्चर्य हुआ क्योंकि आज तक किसी ने भी ऐसा कुछ नहीं मांगा था I राजा ने सोचा कि वह कुछ हीरे जवाहरात सोना चांदी या जमीन मांगेगा I लेकिन यह तो मेरा नौकर बनकर 1 साल मेरे साथ रहना चाहता है I राजा को अंदर ही अंदर खुशी भी हुई कि इतना साहसी और बहादुर मेरा सेवक रहेगा I राजा ने प्रसन्न होकर रामू को हां कह दी I

और रामू 1 साल तक राजा के साथ साथ रहा 1 साल के बाद रामू अपने घर चला गया I और इसी बीच राजा अशोक दूसरे राज्य में युद्ध करने गए और युद्ध के दौरान उनकी मौत हो जाती है I और दूसरे राज्य के लोग राजा अशोक के राज्य को अपने अधीन करने के लिए तैयारी में जुट जाते हैं I

इधर पूरा राज्य शोक में डूबा हुआ हाहाकार मचा हुआ था कि पडोसी राज्य हम पर हमला करने और हमें दास बनाकर I अपने राज्य ले जाएंगे लेकिन रामू जिंदा था I रामू ने पूरे प्रजा के लोगों को समझाया और कहां हम उनका मुकाबला करेंगे I

और रामू ने बहुत बुद्धिमानी वीरता के साथ दूसरे राज्य को हरा दिया और सभी लोगों ने रामू को ही अपना राजा मान लिए I और प्रजा के मंत्री सैनिक सभी आश्चर्य थे कि रामू एक किसान को I युद्ध विद्या रणनीति यह सारी बातें कैसी आई I लेकिन रामू जानता था कि वह एक  साल राजा के साथ नौकर बन कर वह इन्हीं बातों को सीख रहा था I

कहानी के द्वारा सीख

शिक्षा से बड़ा कोई खजाना नहीं और हमें अक्सर छोटी-छोटी बातों से सीखते रहना चाहिए I जो भी इंसान यह कहता है कि मैं बहुत जानता हूं और सीखना छोड़ देता है I उसे बाद में बहुत नुकसान होता है रामू एक किसान जरूर था वह कितना भी बड़ा इनाम मांगता I लेकिन फिर भी राजा कभी नहीं बनता लेकिन वो राजा के साथ रहकर के राजा के रणनीति युक्ति सारे ज्ञान सीख कर वह खुद ही राजा बन बैठा I

इसीलिए कहा भी जाता है कि आप 9 अमीर आदमी के साथ रहेंगे तो इसके बहुत ज्यादा चांसेस है I कि दसवां अमीर इंसान आप होंगे I

आगे भी हम लोग ऐसे प्रेरणादायक और प्रोत्साहन की कहानी आप लोगों के लिए लाते रहेंगे I तब तक आप लोग हमारे साथ बने रहें और खुशियां बांटते रहें I

Leave a Comment