how to forget all bad memories – जब किसी की यादें परेशान करे तब क्या करें -What to do when memories of someone bother you

how to forget all bad memories

Introduction

हम सबकी जिंदगी में कोई ना कोई ऐसा जरूर होता है I जो हमारे लिए बहुत ही खास ही या अनमोल हो जिनके साथ बातें करना समय बिताना हमें बहुत अच्छा लगता है I और सबसे खास बात उनके साथ हमें समय का मालूम ही नहीं चलता I लेकिन धीरे-धीरे जब वह इंसान हमसे दूर हो जाता है तब उसकी यादें लोगों को बहुत परेशान करती है कुछ लोग का मानसिक संतुलन भी बिगड़ जाता है I कुछ लोग डिप्रेशन में चले जाते हैं

कुछ लोग इससे बचने के लिए नशे का सहारा न लेने लगते हैं लेकिन यह बातें उन्हें खाई के अंदर और ले जाती है I लेकिन आज हम लोग कुछ महत्वपूर्ण बातें इसके विषय में सीखेंगे और इससे बाहर आने के लिए कुछ प्रैक्टिकल बातों के विषय में चर्चा करेंगे इसलिए आप बहुत ध्यान से पढ़ते जाएं I

क्यों आती है यादें

जितना गहरा रिश्ता होगा उतनी ही तेजी से यादें भी आती है I इसीलिए हमें बहुत सोच समझकर लोगों के करीब जाना चाहिए I आज बहुत सारे युवा बिना सोचे समझे लोग के करीब चले जाते हैं I और फिर बाद में उन्हें इसका परिणाम भुगतना पड़ता है I

गहरे रिश्ते का अर्थ अटैचमेंट भी होता है I और यदि हम किसी से बहुत अधिक अटैचमेंट में है तो हमारा सारा ध्यान हमारा फोकस उन्हीं बातों पर लगा रहेगा I और इससे आप अपने कैरियर पर भी ध्यान नहीं दे पाओगे और ना ही जीवन में कुछ बड़ा कर सकोगे जिंदगी में असफल दुखी परेशान ऐसे ही रहोगे I इसलिए हमेशा अटैचमेंट से बचके रहें सभी रिश्ते में संतुलन रखें I एक दायरा को नियुक्त करें नहीं तो ज्यादा गहरा रिश्ता हमें यादों के समंदर में डाल सकता है I

यह गलती कभी ना करें

अभी तक हम लोग समस्या के बारे में बात कर रहे थे लेकिन यदि आप इस समस्या में गिर चुके हैं I और यह कुछ भी हो सकता है किसी अपने को खोना या फिर किसी से धोखा पाना या जिसके साथ आप अपने पूरी जिंदगी के सपने देखते थे I उसका छोड़ कर चले जाना ऐसे समय में लोग खुद को अकेला कर देते हैं और धीरे-धीरे उनका विश्वास सबसे उठने लगता है I और वो सभी से दूरी बनाने लगते हैं और वह अधिकतर समय अकेले रहते हैं और कंटिन्यू वही विचार उन्हें अंदर ही अंदर खा रही होती है I

कौन-कौन से समय में यादें ज्यादा आती है

अधिकतर लोगों को आदत तब परेशान करती है I जब वह अकेले होते हैं या जब उनके पास कुछ करने को काम नहीं होता या जब वह बिस्तर पर लेटे रहते हैं I तभी यादों का सिलसिला शुरु हो जाता है और वह उन बातों को सोच कर बेचेन परेशान हो जाते हैं I

यादों से पीछा कैसे छुड़ाएं

यादों को हम भूल तो नहीं सकते आज जो लोग कहते हैं कि भूलकर आगे बढ़ो यह बिल्कुल गलत है I क्योंकि ऐसा कभी होगी की यादें हमेशा के लिए चली जाए और यादें ना आए लेकिन हां ऐसे कुछ तरीके हैं जिससे हम बाहर निकल सकते हैं I

यादों की जड़ बहुत बहुत गहराई से हमारे अंदर में बसी हुई है यह तुरंत तो नहीं जाएगी I लेकिन हम मेहनत करें और कुछ बातों का ध्यान रखें तो हम इससे निकल सकते हैं I

अपने आप को समझाएं

हमें कुछ सवाल अपने आप से पूछने चाहिए I और अपने आप को समझाना चाहिए की इंसान के बगैर भी पहले हमारी जिंदगी अच्छे से चल रहे थे I तो अभी भी उसके बिना भी जिंदगी अच्छे से गुजर सकती है I

दूसरा यदि हमें किसी से धोखा मिला है I तो हमें अपने आपको अच्छे से समझाना चाहिए की अच्छा हुआ I कि वह गलत इंसान हमारी जिंदगी से चला गया उससे बेहतर इंसान हमें मिलेगा I

ऐसे कई सारे बातों के द्वारा अपने आप को अच्छे से समझाएं कि जिंदगी में कई बार जो भी होता अच्छे के लिए होता है I

अपने आप को सही काम में उलझाए रखें

हम सब की जिंदगी में एक सपना रहना चाहिए कि हमें कुछ न कुछ तो करना है I और उस सपने के सामने वह सभी बातें हमें छोटी लगी जो आज हमें परेशान कर रही है I

उस सपने को पूरा करने के लिए हम उसके सामने हम अपने दुख दर्द तकलीफ सब को भूलकर उसी सपने के लिए पागल हो जाए I कुछ एक बड़ा सपना देखें बिल्कुल स्पष्ट सपना और उसे पूरा करने के लिए उसमें अपने आप को व्यस्त कर दे I यादों से पीछा छुड़ाने के लिए सबसे अच्छा उपाय है अपने आपको अच्छे काम में व्यस्त कर देना I ताकि हमें गलत विचार सोचने के लिए समय ना मिले जब हम ऐसा करते हैं I तो हम यादों से पूरी तरह तो आजाद नहीं हो सकते I लेकिन इतना जरुर है कि वह बातें हमें ज्यादा परेशान नहीं करेगी और धीरे-धीरे वह यादें कमजोर भी होती जाएगी I और हम एक अच्छी जिंदगी पहले जैसे जी सकेंगे I

किसी आत्मिक सत्संग में समय बताएं

हमारी जिंदगी में मन की शांति भी बहुत जरुरी है ऐसे में बहुत सारे लोगों की गवाही हमने सुना है I कि यीशु मसीह के पास जाने से कई सारे लोग डिप्रेशन चिंताओं से बाहर निकले ऐसे कई सारे अफवाह भी है कि इसमें धर्म का परिवर्तन होता है I और भी बहुत कुछ लेकिन सच्चाई का मालूम करने के लिए आपको खोजबीन करनी पड़ेगी तभी सच्चाई आपके सामने आएगी I इसलिए किसी की यादों को भुला पाना हमारे लिए मुश्किल हो रहा है तो हमें एक बार इन के दरबार में भी जरूर जाकर देखना चाहिए क्या पता हमें मन की शांति मिले और यादों से हम निकल पाए I

FAQ-

Q हमें यादें क्यों परेशान करती है

Ans बहुत ज्यादा लगाव के कारण

Q यादों से बाहर कैसे निकले

Ans अपने आप को सही बातों में उलझा है रखने के द्वारा

Leave a Comment