How to recognize good and bad people in life, how to know which people are good or bad | जिंदगी में हम अच्छे और बुरे लोगों को कैसे पहचाने कैसे जाने कौन से लोग अच्छे हैं या बुरे हैं how to know people’s personality

how to know people’s personality

Introduction

जिंदगी में हम कभी ना कभी ऐसे समय से जरूर गुजरते है जहां हमें अच्छे और बुरे लोगों में फर्क समझ में नहीं आता है I और यह कभी-कभी जीवन की बहुत बड़ी उलझन बन जाती है I ऐसे समय में कुछ बुरे लोग हमें अपने जैसा बनाने की कोशिश में रहते हैं I और ऐसा करने के द्वारा उन्हें खुशी से भी मिलता है I

संगति का महत्व हमारे जीवन में

जैसा हम सुने भी होंगे कि बुरी संगति हमारे अच्छे चरित्र को बिगाड़ सकती है I इसलिए किस तरह के लोगों के साथ हमारा उठना बैठना संगति है यह हमारे जीवन में काफी मायने रखता है I इसलिए अच्छे लोगों के साथ संगति हमारे लिए बहुत जरूरी है I क्योंकि अच्छे लोग आपको आगे बढ़ने की सलाह देते हैं और आपके लिए उन्नति और प्रेरणा का स्रोत भी बनते हैं I

कई सारे लोग अपने जीवन में कई सारे बदलाव और सुधार को करते हैं क्योंकि I यह अच्छे लोगों की संगति के द्वारा प्रभावित होकर ही ऐसा करते हैं I वहीं दूसरी और देखा जाए तो इसका उल्टा भी हो सकता है वहीं कुछ लोग बुरी और गलत संगति में I आकर अपने जीवन को बर्बादी कर ले जाते हैं जिन के बाद उन्हें पूरी जिंदगी पछताना पड़ता है

हम एक अच्छे और बुरे इंसान को कैसे पहचान सकते हैं I ताकि हम अच्छे संगति में रहे I ना कि बुरे संगति में ताकि आगे चलकर हमें पछतावा ना हो और हम एक सफल जिंदगी को जी सकें I

झूठे और सच्चे लोगों में अंतर

हममें से ज्यादातर लोग उन लोगों के बीच में रहना पसंद करते हैं जो सिर्फ झूठी तारीफ करते हैं I या बड़ी-बड़ी डिंग मारते हैं लेकिन आप बस एक बार उनसे मदद की उम्मीद करके देखिए I आप खुद समझ जाएंगे कि वह हमारे सच्चे मित्र हैं या नहीं I लेकिन वहीं दूसरी ओर सच्चे लोग नीम के जैसे कड़वे जरूर होते हैं लेकिन जिस तरह बीमारियों में नीम एक अच्छी औषधि की काम करता है I ठीक इसी प्रकार कुछ लोग नीम की तरह जरूर कड़वे होते हैं लेकिन वही आपकी जीवन के सच्चे मित्र होते हैं I

इस तरह के लोगों से आपको हमेशा फायदा ही मिलता है क्योंकि उनको जब आप में कोई बुराई देखेगी I तो आप के पीठ पीछे नहीं बोलेंगे लेकिन सीधे वह आपके सामने ही आपकी गलती बता देंगे उनकी बातें बिल्कुल खरी और कड़वी हो सकती है I लेकिन वही अब बात की जाए बुरे लोगों की I तो उनके साथ रहना भले हमें अच्छा लगे लेकिन धीरे-धीरे उनके साथ रहते रहते हमारे अंदर भी उनकी बुराई या उनके गुण आने लगते हैं I हमारी सोच भी उनके जैसी होने लगती है या हमारा बातचीत करने का तरीका अर्थात उनकी बुरी आदतें हमारे अंदर आने लगती है I

और यह तुरंत नहीं होगा लेकिन धीरे-धीरे आपको पता भी नहीं चलेगा और आपके अंदर में उनकी बुरी बातें आने लगेगी I क्योंकि हम एक दूसरे से घुलने मिलने के द्वारा हम भी उनके जैसा बनने लगते हैं I यह इंसान के प्रकृति का हिस्सा है जो कि उन्हें नकारात्मक बातों की और जल्द ही आकर्षित करता है  I

ऐसे लोगों से सावधान रहें

और कई बार तो इतनी देर हो जाती है कि अंत में पछताने के अलावा हमारे पास कुछ नहीं होता I हमारा पैसे हमारा समय सब कुछ बर्बाद हो जाता है और फिर बाद हमें एहसास होता है I हमने एक गलत निर्णय लिया जो भी लोग बहुत मीठी-मीठी बातें करते हैं आपको उनसे सतर्क रहने की जरूरत है I हो सकता है वह आपके सच्चे दोस्त ना हो अब मेरे कहने का मतलब यह भी नहीं है कि सब लोग एक जैसे होते हैं कुछ लोग आपकी परवाह करने वाले भी होंगे I लेकिन इस बात को हमेशा याद रखें जो आपका सच्चा दोस्त होगा तो वह आपकी गलतियों पर आपको ठोकेगा आपको रोकेगा I आपको समझाएगा और उसकी असली परख होती है जब आप दुख में हो I

आगे भी हम लोग आप लोग के लिए ऐसे ही प्रेरणादायक और अद्भुत शिक्षाओं को लाते रहेंगे I तब तक आप लोग हमारे साथ बने रहें और ऐसे ही प्यार बांटते रहें खुशियां बांटते रहें I

Leave a Comment